June 16, 2024

24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Students will earned money during in his higher education in Uttrakhand

अच्छी पहल- उत्तराखंड में पढ़ाई के साथ कमाई कर सकेंगे छात्र

Students will earned money during in his higher education in Uttrakhand

Uttrakhand में पढ़ाई के साथ कमाई भी कर सकेंगे छात्र-छात्राएं

 

उच्च शिक्षण संस्थानों में लीप योजना के तहत कमाई करेंगे छात्र

देहरादून। उत्तराखंड के उच्च शिक्षण संस्थानों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं अब पढाई के साथ-साथ कमाई भी करेंगे।

इसके लिये सरकार ने ‘सीएम लीप अर्न वाइल यू लर्न’ योजना को अपनी मंजूरी दे दी है।

ख़ास खबर हर की पौड़ी कॉरिडोर को लेकर सक्रिय हुए अधिकारियों ने हरिद्वार में डाला डेरा

राज्य विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में शीघ्र ही इस योजना को लागू किया जायेगा।

योजना के तहत स्नातक, स्नातकोत्तर एवं अनुसंधान स्तर पर चयनित मेधावी छात्र-छात्राओं को अधिकतम छह हजार मासिक पारिश्रमिक दिया जायेगा।

सूबे के उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने बताया कि राज्य सरकार उच्च शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव लाने के पक्षधर है ताकि प्रदेश के युवाओं को शिक्षण संस्थानों में उच्च स्तरीय शिक्षा के साथ-साथ व्यावहारिक अनुभव और उपार्जन के अवसर उपलब्ध कराये जा सके।

डॉ रावत ने बताया कि सरकार की इसी मंशा के तहत प्रदेश के उच्च शिक्षण संस्थानों में ‘सीएम लीप अर्न वाइल यू लर्न’ योजना लागू की जायेगी, जिसकी मंजूरी सरकार ने दे दी है।

योजना के तहत इन क्षेत्रों में मिलेगा काम

पढ़ाई के साथ कमाई योजना के तहत उच्च शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत अर्ह छात्र-छात्राएं शैक्षणिक विभाग, अनुसंधान केन्द्र, स्कूल, पुस्तकालय, विभाग और प्रशासनिक कार्यालय में काम कर सकेंगे।

जिसमें पुस्तकालय संचालन के तहत पुस्तक व्यवस्था, प्रदर्शन और संचालन शामिल है।

Students will earned money during in his higher education in Uttrakhandअनुसंधान केन्द्र में उपकरण संचालन, रखरखाव और प्रयोगशाला सहायता संबंधी कार्यों किये जायेंगे।

जबकि विभाग व प्रशासनिक कार्यालय में विशेष रूप से छात्र वर्ग से संबंधित कार्य, डाटा प्रबंधन, फाइलिंग, ड्राफ्टिंग इत्यादि कार्य शामिल है।

 

छात्रों को पढाई के साथ मिलेगा पैसे

सीएम लीफ योजना के तहत कार्ययोजित छात्र-छात्राओं को 100 रुपए प्रति घंटे की दर से अधिकतम रूपये 6000 रुपए प्रतिमाह दिया जायेगा।

जिसका भुगतान इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग सेवा (ECS) के माध्यम से धनराशि सीधे उनके व्यक्तिगत बैंक खाते में जमा की जायेगी।

उन्होंने बताया कि सीखो और कमाओ आधारित इस महत्वपूर्ण योजना के तहत प्रदेश के समस्त राज्य विश्वविद्यालयों, राजकीय महाविद्यालयों और अन्य उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में स्नातक, स्नातकोत्तर एवं अनुसंधान स्तर के पात्र छात्र-छात्राओं को संस्थान में विभिन्न क्षेत्रों में कार्य सौंपे जायेंगे।

योजना के लिये पात्रता

“सीएम लीप अर्न वाइल यू लर्न” योजना के लिये स्नातक द्वितीय वर्ष (तृतीय/चतुर्थ सेमेस्टर) से लेकर स्नातकोत्तर के छात्र-छात्राएं तथा शोधार्थी पात्र होंगे।

योजना के लिये छात्र-छात्राओं का चयन उनके समग्र शैक्षिणिक स्कोर के आधार पर किया जायेगा।

इसके लिये इच्छुक छात्रों को संबंधित संस्थान में पूर्णकालिक नियमित संस्थागत छात्र होना अनिवार्य होगा।

योजना के तहत स्नातक प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय वर्ष में प्राप्त अंक, स्नातकोत्तर प्रथम व द्वितीय वर्ष में प्राप्त अंक, यूसेट में प्राप्त अंक तथा नेट में प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट तैयार की जायेगी।

जिसके बाद उच्च प्राथमिकता पात्रता मानदंड को पूरा करने वाले उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जायेगी।

इच्छुक छात्र-छात्राओं को संबंधित संस्थान में आवेदन करना होगा।

जिसके बाद संस्थान द्वारा सीएम लीप योजना के आवेदन समर्थ पोर्टल के माध्यम से प्राप्त किये जायेंगे।

जिसकी सूचना संस्थान को अपनी वेबसाइट पर प्रसारित करनी होगी और छात्र समूहों में भी इसका प्रचार-प्रसार करना अनिवार्य होगा।

About The Author