24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Ram katha started in narmadeshwar mahadev temple

नर्मदेश्वर महादेव मंदिर में श्री रामकथा का शुभारंभ

 

हरिद्वार। कथा व्यास आचार्य उद्धव मिश्र महाराज ने कहा कि भगवान राम से बड़ा उनका नाम है और राम नाम का जाप करने से ही मनुष्य के सभी मनोरथ पूरे हो जाते हैं।

भगवान हनुमान सदैव राम नाम का जाप करते हैं

और भगवान राम की कृपा से ही भक्तों के मनोरथ को पूरा करने के लिए उपस्थित हो जाते हैं।

भगवान राम के नाम का जाप करने वालों की रक्षा करने के लिए सदैव हनुमान जी तत्पर रहते हैं।

इसलिए राम की कृपा और हनुमान का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए सभी भक्तों को राम नाम का जाप करना चाहिए।

जगजीतपुर -जमालपुर रोड पर फुटबॉल ग्राउंड के निकट स्थित श्री श्री बालाजी धाम सिद्धबलि हनुमान नर्मदेश्वर महादेव मंदिर राज विहार कॉलोनी फेस -1 में

श्राद्ध पक्ष के शुरू होने के साथ राधा रासबिहारी मंदिर कनखल हरिद्वार के संस्थापक आचार्य उद्धव मिश्र महाराज के श्रीमुख से श्रीराम कथा का शुभारंभ हुआ है।

आचार्य उद्धव मिश्रा महाराज ने कहा कि श्राद्ध पक्ष में पित्र लोक से हमारे पूर्वज हमसे मिलने के लिए आते हैं।

ऐसे में पूर्वजों के निमित्त तर्पण, मार्जन के साथ रामकथा के श्रवण का विशेष महत्व है।

ऐसा करने से हमारे पूर्वज मनोकामना पूर्ति का आशीर्वाद देकर पितृ लोक को विदा होते हैं।

उन्होंने कहा स्वामी आलोक गिरी महाराज के पावन सानिध्य में हनुमान जी के सम्मुख रामकथा का शुभारंभ हुआ है।

स्वामी आलोक गिरी महाराज ने कहा कि
भारत भूमि महान है यहां पर समय-समय पर देवी देवताओं ने जन्म लेकर धर्म की स्थापना की है।

ऐसे महापुरुषों में भगवान राम स्थान अग्रणी है।

भगवान राम को मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम के नाम से जाना जाता है।

जिन्होंने मर्यादा की रक्षा के लिए जीवन भर त्याग का मार्ग अपनाया।

उन्होंने पिता के वचन का मान रखने के लिए राज्य का वैभव छोड़ वन को गमन किया।

प्रजा की खातिर अपनी पत्नी का भी त्याग कर दिया। भगवान राम ने आदर्श पुत्र, भाई, मित्र, और आदर्श राजा के रूप में संसार में कीर्तिमान स्थापित किया।