March 1, 2024

24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Girivar nath janklyan dhrmarth seva Trust foundation day

कंबल-भोजन वितरण कर मनाया स्थापना दिवस

गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट के स्थापना दिवस पर वितरित किए कंबल

सेवा ही ट्रस्ट का संकल्प-कमल खड़का

हरिद्वार। समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य कर रहे गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट को स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया।

ख़ास खबर नेपाल की बहुओं के सास से छुपकर किया जानें काम आज बन गया बड़ा उत्सव

इस अवसर पर गऊघाट पर सैकड़ों गरीब, नेत्रहीन और दिव्यांगजनों को कंबल वितरित किए गए।

Girivar nath janklyan dhrmarth seva Trust foundation day कंबल वितरण के पश्चात भोजन प्रसाद भी वितरित किया गया। मुख्य अतिथी पूर्व कैबिनेट मंत्री और नगर विधायक मदन कौशिक ने अपने हाथों से कंबल वितरित किए।

मदन कौशिक ने कहा कि गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट जनसेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान कर रहा है।

अन्य संगठनों को भी इससे प्रेरणा लेकर समाज के निराश्रित और जरूरतमंदों की सेवा में योगदान करना चाहिए।

भाजपा ओबीसी मोर्चा की जिला महामंत्री लक्ष्मी गुरूंग व राजकुमार भुसाल ने स्थापना दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा किए जा रहे सेवा कार्य सभी के लिए प्रेरणादायी हैं।

गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट के अध्यक्ष कमल खड़का ने बताया कि समाज सेवा के संकल्प के साथ ट्रस्ट विभिन्न सेवा प्रकल्पों के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों को लेखन व पाठ्य सामग्री का वितरण, गरीब कन्याओं के विवाह में सहयोग, निराश्रित रोगियों के उपचार की व्यवस्था, समय-समय पर गरीबों को भोजन व वस्त्र वितरण आदि के माध्यम से जनसेवा में योगदान कर रहा है।

कमल खड़का ने बताया कि ट्रस्ट के स्थापना दिवस पर बलदेव खत्री एडवोकेट, राज कुमार सोनी, राम बहादुर कुंवर, लक्ष्मी गुरुंग, पप्पू कुमार, नितिन श्रोत्रीय, सचिन शर्मा, प्रकाश रुवाली, राज राजेश शर्मा, कुमार भुसाल, सुशील पाण्डे, गीता देवी, शालू सिंह, रानी राजपूत, हंसा बैन, सुनीता, दीक्षा राठौर, निशांत राजपूत, अमरदीप, कैलाश गुप्ता, ललित कुमार सोनी, राम प्रसाद शर्मा, अमन सैनी, शोभित कश्यप, चन्द्रशेखर जोशी, अनुज जोशी, राकेश दवान, कृष्णा आदि के सहयोग से 201 गरीब, नेत्रहीन व दिव्यांगजनों को कंबल वितरित किए गए। उन्होंने सभी से समाज के निराश्रित और वंचित वर्ग की सेवा के लिए आगे आने की अपील भी की।

About The Author