July 12, 2024

24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Ghaad area of Haridwar will be include in HRDA

HRDA का बढ़ा दायरा, घाड़ क्षेत्र में अब बहेगी प्राधिकरण के विकास की गंगा

Ghaad area of Haridwar will be include in HRDA

घाड क्षेत्र विकास परिषद का सम्पूर्ण क्षेत्र हरिद्वार -रूडकी विकास प्राधिकरण में सम्मिलित

हरिद्वार। हरिद्वार रुड़की विकास प्राधिकरण के दायरा अब बढ़ गया है।

जिले का धाड़ क्षेत्र को अब प्राधिकरण में ही संजीत कर दिया गया है। जिसका शासनादेश भी जारी कर दिया गया है।

यह भी पढ़े – मनसा देवी और चंडी देवी मंदिर के रोपवे बंद करने की मुख्य वजह

बता दे कि हरिद्वार के घाड़ क्षेत्र के सुनियोजित विकास के लिए घाड़ क्षेत्र विकास परिषद का गठन किया गया था।

जिसके अर्न्तगत विकास खण्ड भगवानपुर के 87 राजस्व ग्राम, रूडकी के 10 राजस्व ग्राम तथा बहादराबाद के 10 राजस्व ग्राम सम्मिलित किये गये थें।
उत्तराखण्ड शासन ने अधिसूचना जारी करते हुए वर्तमान में हरिद्वार के घाड़ क्षेत्र विकास परिषद को समाप्त करते हुए, परिषद के क्षेत्र को हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण, हरिद्वार में सम्मिलित कर दिया गया है।

बताते चले कि घाड़ क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले कुल… ग्रामों में विकास कार्य का दायित्व हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण के पास आ गया है।

घाड क्षेत्र परिषद के समाप्त होने के पहले सम्मिलित ग्रामों के नक्शों के स्वीकृति एवं निर्माणों के शमन की कार्यवाही हरिद्वार-रूडकी विकास प्राधिकरण में निहित हो जाने पर घाड क्षेत्र के निवासीगण अपने आवासीय/व्यवसायिक भवनों व प्रतिष्ठानों आदि का मानचित्र हरिद्वार-रूडकी विकास प्राधिकरण से स्वीकृत करा सकेंगे।

About The Author