24x7breakingpoint

Just another WordPress site

plunderer bride who used to hunt with her relatives

लूटेरी दुल्हन जो अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर बनाती थी शिकार

काशीपुर – लूटेरी दूल्हन के कई कारनामे आपके सामने आये होंगे, जहां शादी के रिश्ते में बंधने के बाद दुल्हन कैश और ज्वेलरी लेकर चंपत हो जाती है,

लेकिन आज हम आपको बताते हैं ऐसी लुटेरी दुल्हन जिसके रिश्तेदार और बाराती भी मिलकर रचाते हैं लूट की साजिश और

भोले भाले लोगों को अपने जाल में फंसाकर देते हैं वारदात को अंजाम,

जी हां एक एसा लूटेरी दूल्हन का मामला सामने आया है

उधमसिंह नगर में, जहां गदरपुरी की रहने वाली शादीशुदा महिला पैसे कमाने के लिए कई बार बन जाती है दुल्हन और फिर हो जाती है फरार।

लुटेरी दुल्हन के अनोखे कारनामे का बेहद ही रोचक खुलासा जिले के कप्तान डी मंजूनाथ टीसी ने किया है,

दरअसल गदरपुर के रहने वाले एक परिवार के सदस्यों का गिरोह लूट की वारदात के लिए अन्य राज्यों में जाकर पूरा षड्यंत्र रचाता है,

और फिर पूरे रीति रिवाज के साथ विवाह की रस्म अदायगी भी की जाती है,

जिसके बाद दुल्हन विवाह के कुछ दिन बाद ही चकमा देकर फरार हो जाती है, और ठगा रह जाता है नया नवेला दूल्हा,

लेकिन इस बार लुटेरी दुल्हन का ये दांव कुछ उल्टा पड़ गया और ठगा गया दूल्हा अपनी इस बदनामी को बर्दास्त नहीं कर पाया,

जिसके चलते राजस्थान के झुझून्नू का ये दुल्हा उत्तराखंड के उधमसिंह नगर पहुंचा और पुलिस से फरियाद लगायी की पैसे और गहने लेकर उनकी दुल्हन फरार हुई है,

लेकिन जिन खातों में उसने नकदी ट्रांसफर कराई है व इसी जिले के होना बताया जा रहा है,

जिसके आधार पर पुलिस को मिली लीड से पुलिस ने पुरे गिरोह को अपने शिकंजे में ले लिया।

जिनसे जानकारी के बाद पता चला की पहले शादी शुदा ये दुल्हन अपने पति और अन्य रिश्तेदारों के साथ मिलकर ही विवाह का पुरा खेल रचाते थे,

और फिर कोई रिश्तेदार बनकर तो कोई बाराती बनकर दुल्हन के विवाह को रचाते थे,

वहीं पुरा परिवार मिलकर इस षडयंत्र में शामिल होकर लूट का खेल रचाकर लोगों को लूटने का काम करते थे

जिनके द्वारा अन्य और भी ऐसे मामले किये जाने की बात अभी सामने आना बाकी है,

वहीं पुलिस का कहना है कि लूटेरी दूल्हन और उसके पति और रिश्तेदारों से फिलहाल पूछताछ की जा रही है,

जल्द ही अन्य राज्यों में भी इनके द्वारा इस तरह का कारनामा किये जाने का मामला अन्य भी सामने आ सकता है।

वहीं इस पूरे खुलासे में लगी काशीपुर पुलिस टीम की सराहना करते हुए एसएसपी ने पांच हजार देने की घोषणा की,