24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Uttrakhand IAS-IPS के कार्यों में बदलाव

Uttrakhand IAS-IPS के कार्यों में बदलाव

उत्तराखंड नौकरशाही पर सीएम धामी की बड़ी सर्जरी,21 IAS बदले

Uttrakhand IAS-IPS के कार्यों में बदलाव, कई का कद बढ़ा तो कई के पर कतरे गए

धामी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बड़ा फेरबदल किया है। 21 आईएएस (IAS) और एक आईपीएस (IPS) अधिकारी के कार्य क्षेत्रों में बदलाव किया गया है।

इस बदलाव के साथ ही कुछ अधिकारी ताकतवर बने हैं तो

कहीं कुछ अधिकारियों का कद छोटा किया गया है।

धामी सरकार के दूसरे कार्यकाल में सबसे ताकतवर अधिकारी बनने वाले आईपीएस अभिनव कुमार पहले स्थान पर है।

Uttrakhand IAS-IPS के कार्यों में बदलाव
Uttrakhand IAS-IPS के कार्यों में बदलाव

अभिनव कुमार को स्पेशल प्रमुख सचिव बनाया गया है।

जिसमें उन्हें मुख्यमंत्री के प्रचार प्रसार देखने वाले विभाग सूचना की भी जिम्मेदारी दी गई है।

धामी सरकार के पहले कार्यकाल में सबसे ताकतवर और करीबी माने जाने वाले आनंद वर्धन को मुख्यमंत्री सचिवालय से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

धामी टीम में राधा रतूड़ी एक बार फिर से मजबूत दिखाई दे रही है। राधा रतूड़ी को गृह और कारागार जैसे अहम विभागों की जिम्मेदारी दी गई है।

आईएएस मीनाक्षी सुंदरम ऊर्जा और वैकल्पिक ऊर्जा, श्रमिक एवं अध्यक्ष उत्तराखंड भवन जैसे अहम विभागों की जिम्मेदारी दी गई है।

मुख्य सचिव (Chief Secretary) डॉ एसएस संधु को भी अतिरिक्त ज़िम्मेदारी के तौर पर स्थानिक आयुक्त, नई दिल्ली बनाया गया है।

जो उनके दिल्ली वापसी को ओर इशारे कर रहा है।

ACS मनीषा पंवार को अवस्थापना विकास आयुक्त एवं अध्यक्ष, परिवहन निगम का दायित्व दिया गया है।

ACS आनंद वर्धन को ग्राम्य विकास, राजस्व, शहरी विकास, आवास, मुख्य प्रशासक उत्तराखंड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण तथा कृषि उत्पादन आयुक्त का जिम्मा दिया गया है।

प्रमुख सचिव आरके सुधांशु को वन, पर्यावरण संरक्षण तथा जलवायु परिवर्तन का दायित्व सौंपा गया है।

प्रमुख सचिव एल फैनई को आयुक्त समाज कल्याण का जिम्मा दिया गया है।

सचिव मुख्यमंत्री शैलेश बगोली को सचिव कार्मिक एवं सतर्कता, मंत्रिपरिषद, कृषि एवं कृषक कल्याण व उच्च शिक्षा का जिम्मा दिया गया है।

सचिव नितेश कुमार झा से तकनीकी शिक्षा लेकर ग्रामीण निर्माण की जिम्मेदारी दी गई है।

सचिव राधिका झा को चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा का जिम्मा दिया गया है।

सचिव अरविंद सिंह ह्यांकी से कार्मिक एवं सतर्कता की जिम्मेदारी वापस लेकर सचिव परिवहन का जिम्मा दिया गया है।

सचिव सचिन कुर्वे से ग्रामीण निर्माण वापस लेकर ग्राम्य विकास, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति व उपभोक्ता मामले और आयुक्त खाद्य की जिम्मेदारी दी गई है।

सचिव सौजन्या को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की जिम्मेदारी दी गई है।

जबकि सचिव बीवीआरसी पुरुषोत्तम को सचिव पशुपालन, मत्स्य, दुग्ध एवं दुग्ध विकास, सहकारिता, निदेशक दुग्ध विकास तथा निदेशक महिला डेयरी की जिम्मेदारी देकर उनका कामकाज बढ़ाया गया है।

सचिव रविनाथ रमन को विद्यालयी शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा में कुछ कर दिखाने का टास्क दिया है।

डॉ पंकज कुमार पांडेय को सचिव औद्योगिक विकास, खनन व आयुष एवं आयुष शिक्षा जैसे अहम विभागों का जिम्मा दिया गया है।

डा. रंजीत सिन्हा से परिवहन एवं पुनर्गठन वापस लेकर आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास, राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, परियोजना निदेशक बाह्य सहायतित परियोजनाओं की जिम्मेदारी दी गई है।

सचिव हरिचंद्र सेमवाल को आबकारी एवं आयुक्त आबकारी का अतिरिक्त जिम्मा सौंपा गया है।

सचिव चंद्रेश यादव से आयुष एवं आयुष शिक्षा व श्रम वापस लेकर पुनर्गठन तथा संस्कृत शिक्षा की जिम्मेदारी दी गई है।

सचिव विजय कुमार यादव से वन एवं पर्यावरण संरक्षण तथा जलवायु परिवर्तन का जिम्मा वापस लिया गया है।

प्रभारी सचिव दीपेंद्र कुमार चौधरी से उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण का जिम्मा वापस लेकर सैनिक कल्याण तथा राजस्व का जिम्मा सौंपा गया है।