May 25, 2024

24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Meeting of siv Sena organized in Haridwar

खानपुर में गरजे शिव सैनिक, किसानों के साथ अन्याय नहीं होगा बर्दाश्त

सत्ता के नशे में चूर है उत्तराखंड सरकार देवेंद्र प्रजापति

हरिद्वार- शुक्रवार को शिवसेना की एक बैठक खानपुर विधानसभा के गांव रायसी में आयोजित की गई

हरिद्वार ग्रामीण प्रभारी नेमचंद सैनी के नेतृत्व में आयोजित बैठक की अध्यक्षता गढ़वाल मंडल प्रमुख देवेंद्र प्रजापति ने की

बैठक का संचालन करते हुए गढ़वाल मंडल सचिव सत्यवीर राठौर ने कहा कि खानपुर विधानसभा का 70% क्षेत्र त्रासदी आपदा के कारण जलमग्न हो गया था जिसकी वजह से सभी किसानों की गन्ने व धान की फसल नष्ट हो गई है

लक्सर तहसील प्रशासन व सरकार को किसानो की और ध्यान देना चाहिए क्योंकि किसान को अन्नदाता कहा गया है

यह भी पढ़े -भाजपा विधायक पार्वती दास ने शपथ के बाद कहीं बड़ी बात

और प्रशासन का अन्नदाता की तरफ कोई ध्यान नहीं है और ना ही सरकार का सरकार फसल मुआवजा की बात करती है

और प्रशासन के अधिकारी क्षेत्रीय पटवारी फसलों की जांच के लिए गांव में आते हैं और अपने किसी एक खास आदमी के घर बैठकर वहीं बैठे-बैठे सारी फसलों की जांच पूरी कर देते हैं

और उसके बाद नष्ट हुई फसलों का प्रशासन द्वारा मुआवजा चेक जारी कर दिए जाते हैं जो उन किसानों को नहीं मिल पाते जिनकी फसल नष्ट हुई है

अध्यक्षता करते हुए देवेंद्र प्रजापति ने कहा कि किसानों के साथ शिवसेना कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है किसी भी हाल में किसानों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

प्रजापति ने कहा कि जो किसानों का उत्पीड़न करेगा चाहे वह अधिकारी हो चाहे सरकार शिव सेना कतई बर्दाश्त नहीं करेगी

प्रजापति ने कहा कि यदि भारी मात्रा में किस शिवसेना ज्वाइन करते हैं और वह एक लिखित रूप में शिवसेना को अपनी पीड़ा लिख बताते हैं तो जल्द ही शिवसेना का एक प्रतिनिधि मंडल तहसील प्रशासन से मिलेगा

देवेंद्र प्रजापति ने कहा कि जो अधिकारी या सरकार किसानों की बात नहीं मानेगा उसके खिलाफ शिवसेना सड़कों पर उत्तर आंदोलन करेगी और इसका खामियाजा व प्रशासन सरकार को भुगतना पड़ेगा

कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित गढ़वाल मंडल संगठन सचिव महंत रमेश नाथ जी महाराज अंकित चौधरी घोपेंद्र कुमार आर्य राजेश कुमार चौधरी चंद्र मोहन ऋषिपाल चौधरी अनिरुद्ध चौधरी सतबीर सिंह चौधरी बिट्टू चौधरी नैन सिंह चौधरी चांदवीर आदि पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित रहे

About The Author