24x7breakingpoint

Just another WordPress site

गणतंत्र दिवस परेड में दिखेगा उत्तराखंड का यह 'मिनी स्विट्जरलैंड'

गणतंत्र दिवस परेड में दिखेगा उत्तराखंड का यह 'मिनी स्विट्जरलैंड'

गणतंत्र दिवस परेड में दिखेगा उत्तराखंड का यह ‘मिनी स्विट्जरलैंड’

देहरादून(अरुण शर्मा)। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड पर उत्तराखंड की झांकी को भी शामिल किया गया हैं राज्य गठन के बाद यह 10 बार ऐसा मौका होगा जब उत्तराखंड की झलक इस परेड में दिखायी देगी। महात्मा गांधी की जयंती को 150 साल पूरे होने पर गणतंत्र दिवस की परेड की थीम महात्मा गांधी पर ही आधारित है। यही वजह है कि इस बार उत्तराखंड के कौसानी को परेड में जगह भी मिला है

खास खबर—प्रयागराज कुंभ में इस बार होगी यह खास व्यवस्था,उत्तराखंड निमंत्रण लेकर पहुंचे मंत्री

इस बार गणतंत्र दिवस परेड पर उत्तराखंड की झांकी में गांधी जी के अनाशक्ति आश्रम की झलक मिलेगी। 1929 में गांधी जी ने बागेश्वर भ्रमण के दौरान इसी स्थान पर अनासक्ति योग लिखी थी। इसी दौरान उन्होने कौसानी को ‘मिनी स्विट्ज़रलैंड की संज्ञा दी थी।
गणतंत्र दिवस परेड के लिए भारत सरकार हर साल राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों, मंत्रालयों से झांकी के लिए प्रस्ताव आमंत्रित करता है. सभी प्रस्तावों के परीक्षण के बाद रक्षा मंत्रालय की एक विशेषज्ञ समिति सभी मानकों को ध्यान में रखते हुए झांकी के प्रस्तावों को स्वीकार करती है.

चयन के बाद झांकी को अंतिम रूप देने से लेकर परेड के दौरान झांकी की देखरेख सब रक्षा मंत्रालय की विशेषज्ञ टीम ही करती है. इस बार के लिए 14 राज्यों और 6 मंत्रालयों की झांकी को चयनित किया गया है. उत्तराखंड की ओर से चयनित झांकी में अग्रभाग में महात्मा गांधी की बड़ी आकृति के साथ ही कौसानी स्थित अनासक्ति आश्रम दिखाया जाएगा, जहां पंडित गोविन्द बल्लभ पंत और महात्मा गांधी वार्ता करते दिखेंगे. साथ ही आश्रम के दोनों ओर पर्यटक योग और अध्ययन करते नजर आएंगे.