24x7breakingpoint

Just another WordPress site

Kumbh माफिया संतों को छोड़ बाकी संत Liquor फैक्ट्री के खिलाफ: हठयोगी

हरिद्वार (आश्रति)। देवप्रयाग में शराब (liquor) फैक्ट्री विरोध में हरिद्वार के देवपुरा चौक पर क्रमिक अनशन नौवे दिन भी जारी है। अनशन के नौवे दिन जूना अखाड़े के अंतराष्ट्रीय संगठन मंत्री विनोद गिरी महाराज , अखाडा परिषद् के पूर्व प्रवक्ता बाबा हठयोगी और व्यापार मंडल से जुड़े लोगो ने अनशन को समर्थन दिया। अखाड़ा परिषद के पूर्व प्रवक्ता बाबा हठयोगी ने कहा कि शराब(liquor) फैक्टरी के विरोध में कई अखाड़ो के साधु संतों का समर्थन उन्हें मिल रहा है लेकिन कुछ संत खुलकर सामने नही आ रहे है। केवल वही संत शराब(liquor) फैक्ट्री के विरोध में नही है जो कुम्भ (Kumbh) माफिया है। 2010 के कुम्भ मेले में इन्ही माफिया संतो ने पैसों की बंदरबांट कर फर्जी तरीके से फ्लैट आदि खड़े कर लिए है।

खास खबर :— Property विवाद में चली गोली एक युवक घायल आरोपी फरार

इस दौरान मांगे न पूरी होने के विरोध में राज्य सरकार का पुतला भी फूंका गया जूना अखाड़े के अंतराष्ट्रीय संगठन मंत्री विनोद गिरी महाराज ने कहा कि उत्तराखंड देवभूमि है यहाँ शराब फैक्ट्री लगाना देवताओं का अपमान है। कहा कि आज पूरा देश गँगा स्वछता अभियान से जुड़ा हुआ है और उत्तराखंड सरकार शराब फैक्ट्री लगाकार गँगा को प्रदूषित करने का काम कर रही है जो निंदनीय है। सरकार को अपना फैसला वापस लेना ही होगा।
श्री ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि एक तरफ तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड की गुफाओं में रहकर यहाँ का मान बढ़ाते है दूसरी तरफ यहाँ का मुख्यमंत्री यहाँ शराब खाने खुलवा रहे है। ये भाजपा सरकार की दोहरी मानसिकता है जो अब नही चलेगी। सरकार यहाँ की नदियों को प्रदूषित कर रही है , सरकार को शराब फैक्ट्री खोलने का निर्णय वापस लेना पड़ेगा यदि सरकार इसे वापस नहीं लेती तो जनता इन्हे माफ़ नहीं करेगी और जनता ही इन्हें सबक जरूर सिखाएगी।