24x7breakingpoint

Just another WordPress site

अब वो governments नहीं रही जो जनता हित में कार्य करती थी:— Yeti Narasimhanand Saraswati

हरिद्वार (विकास चौहान)। हरिद्वार में देवभूमि लगाई गई शराब (liquor) फैक्ट्री के विरोध में क्रमिक अनशन ग्यारहवे दिन भी जारी है , अभी तक कई धार्मिक , सामाजिक संगठनों और साधु संतो का समर्थन इस अनशन को मिला है। गुरुवार को डासना पीठ के पीठाधीश्वर यति नरसिंहानंद सरस्वती (Yeti Narasimhanand Saraswati) महाराज भी इस अनशन को समर्थन देने हरिद्वार पहुंचे। अनशन कर रहे साधु संत अब आमजन को जगाने और उनके समर्थन के लिए गँगा किनारे चिंतन और मंथन कर आगे की लड़ाई की रणनीति भी तय करेंगे।

खास खबर :— Oyo के खिलाफ लामबन्ध हुए हरिद्वार के Hotel व्यवसायी, करेगें बड़ा आंदोलन

शराब फैक्ट्री के खिलाफ क्रमिक अनशन को समर्थन देने आये यति नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि देवभूमि में शराब फैक्ट्री के विरोध में जो साधु संत संघर्ष कर रहे है उन्हें वो नमन करते है , बाकि संत समाज को भी देवभूमि की रक्षा के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाए कि अब वो सरकारें नहीं रही जो जनता के हित में होती थी , अब सरकारें पता नहीं कौन से हितों को साधने में जुटी है।

अखाडा परिषद् के पूर्व प्रवक्ता बाबा हठयोगी अनशनकारियों के साथ है। बाबा हठयोगी का कहना है कि अब आमजन के समर्थन के लिए साधु संत गँगा किनारे नमामि गंगे घाट पर चिंतन और मंथन करेंगे। साथ कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में अब असुर प्रवत्ति के लोग ज्यादा हो गए है उनकी सद्बुद्धि के लिए माँ गँगा से प्रार्थना करेंगे साथ ही आगे की रणनीति भी तय की जाएगी।