24x7breakingpoint

Just another WordPress site

ग्रामीणों ने प्रधान पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप , SDM से कि कार्यवाही की माँग।

जाने आलम ( लक्सर )। लक्सर के डूंगरपुर गाँव के लोगो ने लक्सर तहसील मुख्यालय पर ग्राम प्रधान के विरोध में जमकर हंगामा काटा, ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर भ्रष्टाचार, रिश्वतखोरी और धांधली के आरोप लगाकर लक्सर एसडीएम (SDM) से कार्यवाही की मांग की है।

खास खबर—सत्यम ऑटोमोबाइल से निकाले गए कर्मचारी उग्र आंदोलन को विवश

आपको बता दे कि लक्सर के डूंगरपुर गांव में बीती 7 सितम्बर को लक्सर एसडीएम  (SDM) पुराण सिंह राणा के दिशा निर्देश कैंप लगाया गया था जिसमें कई विभागों के अधिकारी ग्रामीणों की समस्या सुनने पहुंचे। जब डूंगरपुर के ग्रामीण ग्राम प्रधान के खिलाफ अपनी शिकायत करने लगे तो ग्राम प्रधान व उसके बेटे ग्रामीणों पर आग बबूला हो गए और उन्होंने ग्रामीणों के साथ अभद्र व्यवहार किया।

 

इतना ही नहीं इस दौरान कवरेज कर रहे स्थानीय पत्रकारों के साथ भी गाली गलौज वह मारपीट की गई। इससे गुस्साए आज सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण हरिद्वार के मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय पहुंचे जहां उनकी मुलाकात मुख्य विकास अधिकारी से नहीं हो सकी , इसके बाद ग्रामीण लक्सर एसडीएम कार्यालय पहुंच गए वहाँ गुस्साए लोगों ने लक्सर तहसील परिसर में जमकर हंगामा काटा और ग्राम प्रधान के खिलाफ लक्सर लक्सर एसडीएम को शिकायती पत्र भी सौंपा।

ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान और उसके बेटे गांव में दबंगई दिखा रहे हैं, वह लोगों से सरकारी मकान व सरकारी शौचालय बनवाने की एवज मे पैसे की मांग करता हैं, लेकिन सरकारी योजनाओं का लाभ किसी को भी नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों का ये भी कहना है कि ग्राम प्रधान अपने गुट के लोगों को ही जोकि अपात्र लोग हैं उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ दे रहा है और पात्र लोग इन सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित है। ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान की संपत्ति व उसके परिवार वालों की संपत्ति की भी जांच कराने की मांग भी की है
लक्सर के एसडीएम पुरण सिंह राणा ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया ग्रामीणों को दिया है, एसडीएम का कहना है कि  डूंगरपुर गांव के ग्राम प्रधान के खिलाफ अनियमितता बरतने और भ्रष्टाचार करने का ग्रामीणों की ओर से एक प्रार्थना पत्र मिला है, जिस पर त्वरित जांच की जाएगी और जांच के उपरांत अगर मामला सही पाया जाता है तो ग्राम प्रधान के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।