24x7breakingpoint

Just another WordPress site

19 लाख की लागत से बन रही पुलिया के विरोध में मेयर संग Congress का प्रदर्शन

हरिद्वार (विकास चौहान)। हरिद्वार में पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा 19 लाख रूपए की लागत से बनाई जा रही पुलिया सवालों के घेरे में आ गई है। कृष्णानगर स्थित भैरव मंदिर के सामने इस पुलिया को बनाए जाने को लेकर कांग्रेसियों (Congress) ने विरोध प्रदर्शन किया है। कांग्रेसियों (Congress) का आरोप है कि एक व्यक्ति विशेष को फायदा पहुंचाने के लिए इस पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है क्योंकि जिस जगह पुलिया का निर्माण हो रहा है। हरिद्वार मेयर अनीता शर्मा के नेतृत्व में आक्रोशित कांग्रेसी कार्यकर्ताओ द्वारा पीडब्ल्यूडी कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया गया। इतना ही नहीं कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के गले में माला पहनाकर माथे पर तिलक लगाकर उनकी आरती उतारी और इस पुलिया के बनाए जाने को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया।

प्रदर्शन में शामिल हरिद्वार मेयर अनीता शर्मा का कहना है कि यह बहुत ही गलत कार्य हो रहा है 19 लाख की लागत से इस पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है उस जगह पर ना कोई गाड़ियां चलती है। जो पीडब्ल्यूडी द्वारा इतनी बड़ी पुलिया बनाई जा रही है आखिर किसके दबाव की वजह से इस पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है इसकी जाँच होनी चाहिए। शहर में सड़कों पर इतने गड्ढे हैं उस तरफ तो पीडब्ल्यूडी का ध्यान नहीं है। कांग्रेस नेता व् मेयर पति अशोक शर्मा का कहना है कि जिस जगह पर इस पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है ना वहां कोई दुकान है ना ही मकान है मगर इसके अलग दो पुलिया और है जहां पर लोगों को परेशानी होती है उसके लिए हमने कई बार पत्र लिखे कि यहां पर सड़कों का चौड़ीकरण किया जाए मगर वह नहीं किया गया। यह पहली बार हो रहा है कि किसी व्यक्ति विशेष को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार के द्वारा 19 लाख रुपए लगाए गए है।
पीडब्ल्यूडी द्वारा हरिद्वार की खस्ताहाल सड़कों पर कोई कार्य नहीं किया जाता है और हरिद्वार की जनता लगातार सड़कों पर हुए गड्ढों की वजह से परेशान रहती है उस तरफ पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का ध्यान नहीं है मगर जिस जगह पर पुलिया का निर्माण ही नहीं होना चाहिए वहां पर पीडब्ल्यूडी द्वारा पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है। पीडब्ल्यूडी अधिशासी अभियंता दीपक कुमार का कहना है कि यह पुलिया हमारे यहां राज्य योजना में स्वीकृत है इसलिए हमारे द्वारा इस पुलिया का निर्माण कराया जा रहा है जिस कार्य को स्वीकृत किया जाता है वह संस्तुति के बाद ही होती है और उस कार्य को विभाग द्वारा कराए जाते हैं इस पुलिया का निर्माण काफी पहले से स्वीकृत किया गया थी जितने भी सड़के पीडब्ल्यूडी द्वारा बनाई जाती है वहां कोई ना कोई अपना घर बनाता है इससे हमें कोई मतलब नहीं होता जिस जगह पर पुलिया का निर्माण हो रहा है वहां उसकी आवश्यकता थी तभी वहां बनाई गई है।