24x7breakingpoint

Just another WordPress site

कृष्ण जन्माष्टमी की बात ही कुछ अलग है

कृष्ण जन्माष्टमी की बात ही कुछ अलग है

राजस्थान अलवर की इस 56 भोग वाली कृष्ण जन्माष्टमी की बात ही कुछ अलग है

राजस्थान(कमल खड़का)। राजस्थान के अलवर जिले में भी पूरे देश की तरह ही कृष्ण जन्माष्टमी की धूम रही। यहां रामगढ़ तहसील के बिजवा ग्राम कारोली खालसा स्थित मन्दिर बाबा गिरवर नाथ धाम में श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव मनाया जाएगा।

खास खबर—हरिद्वार पुलिस ने बताया कैसे निपटना है कच्छा बानियान गिरोह

बाबा श्री नन्दलाल जी महाराज ने बताया कि कई वर्षों से लगातार मन्दिर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। देश विदेश से कई अनुयायी श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर यहाँ पर आते हैं उन्होंने कहा कि इस बार भगवान श्री कृष्ण को 56 भोग लगाएं जाएंगे व शाम को आरती भजन कीर्तन किया जाएगा।

मन्दिर मैं हर साल फरवरी माह में भंडारा व मई माह में विशाल भण्डारे का आयोजन लगातार 40 वर्षो से किया जा रहा है तथा मन्दिर मैं कई तरह का आयोजन किया जाता हैं

माना जाता है कि प्रतिवर्ष दो प्रकार से श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस वर्ष भी गृहस्थ आज व्रत और वैष्णव साधु संत कल शनिवार को व्रत रखेंगे।

भगवान कृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि रोहिणी नक्षत्र में रात्रि 12 बजे हुआ था। कंस के अत्याचारों से परेशान गृहस्थ धर्म के लोगों ने मथुरा में पहले से व्रत रखा था। भगवान का रात्रि को जब जन्म हो गया तो उन्होंने दूसरे दिन उत्सव मनाया, जबकि संतों महात्माओं ने दूसरे दिन इस व्रत को रखा। इसलिए इसे व्रतराज भी कहा जाता है।