24x7breakingpoint

Just another WordPress site

प्रीतम सिंह के खिलाफ बयानबाजी इन बड़े नेताजी पड़ गयी भारी,होगी कार्यवाही

प्रीतम सिंह के खिलाफ बयानबाजी इन बड़े नेताजी पड़ गयी भारी

प्रीतम सिंह के खिलाफ बयानबाजी इन बड़े नेताजी पड़ गयी भारी,होगी कार्यवाही

देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड में अपने खोये जनाधार को वापस पाने के लिए जूझ रही कांग्रेस के लिए उसके अपने ही सिपाही मुसीबत बनते दिखायी दे रहे हैं। गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति ने प्रदेश कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष दर्शन लाल को अनुशासनहीनता का नोटिस जारी किया गया। समिति ने दर्शन लाल मिडिया में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के खिलाफ की जा रही बयानबाजी को अनुशा​सनहीनता बताते हुए एक हफ्ते में जवाब मांगा हैं।

खास खबर—उत्तराखंड में दाल पर सब्सिड़ी मंत्रीमंडल की मुहर,जानिए और क्या रहे खास निर्णय

दर्शन लाल को जारी किये गये कारण बताओ नोटिस में प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति के अध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि दर्शनलाल ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के बारे में भी अनर्गल बयानबाजी की गई है जिससे संगठन की छबि पर प्रतिकूल असर पड़ा है।

प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में मीडिया में दिये गये उनके वक्तव्य से संगठन की छबि को धूमिल करने का काम किया हैं। जिसे प्रदेष अनुशासन समिति द्वारा गम्भीरता से लिया गया है।

नोटिस में कहा गया है कि आपके द्वारा दिये गये बयान अनुशासनहीनता के दायरे में आते हैं तथा पार्टी में ऐसी अनुशासनहीनता को कतई बर्दास्त नहीं किया जायेगा। आपके इस कृत्य के लिए क्यों न आपके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए पार्टी से निश्कासन की कार्रवाई की जाय?

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डाॅ0 आर0पी0 रतूड़ी ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति द्वारा दर्शन लाल को एक सप्ताह के अन्दर अपना स्पष्टीकरण प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति को देने का निर्देश दिया है। यदि एक सप्ताह के अन्दर वे अपना पक्ष स्पष्ट नहीं करते हैं तो उन्हें 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया जायेगा।