24x7breakingpoint

Just another WordPress site

पहाड़ी भुला की ईमानदारी,कोलकाता से यात्री का नोटों से भरा पर्स लौटाया

पहाड़ी भुला की ईमानदारी,कोलकाता से यात्री का नोटों से भरा पर्स लौटाया

हरिद्वार-पहाड़ी भुला की ईमानदारी,कोलकाता से यात्री का नोटों से भरा पर्स लौटाया

हरिद्वार(अरुण शर्मा)। यूं तो उत्तराखंड के लोगों को ईमानदारी और सरलता के लिए जाना जाता हैं। इसकी एक जिंदा मिसाल कायम की हरिद्वार के रहने वाले पहाड़ी भुला ने। शिव सिंह कुमाई नाम के इस युवक ने कोलकाता से हरिद्वार घूमने आये एक यात्री का नोटों से भरा पर्स वापस कर पहाड़ीयों के ईमानदार होने का पुख्ता सुबुत दिया हैं। दरअसल कनखल हिमगिरी कालोनी में रहने वाले युवक शिव सिंह बीते रोज शाम को टहलते हुए होटल गंगेज रिवेरा के समीप पैसों से भरा एक पर्स मिला था। जिसमें तकरीबन 37,000 (सैंतीस हजार) रूपए की नकदी व जरूरी कागजात मिले थे।

खास खबर—हरिद्वार लोकसभा-निशंक की प्रचंड जीत में इस अभियान का है महत्वपूर्ण योगदान

जिसके बाद शिव सिंह ने पर्स में मिले आधार कार्ड व पर्स में मिले कागजों में मौजूद फोन नम्बर पर संपर्क कर पर्स मालिक की काफी खोजबीन की मगर उस दौरान कोई जानकारी नहीं मिल पाई। इस संबंध में युवक द्वारा कई आश्रमों में अपने करीबियों , परिचितों को इस विषय में बताकर अपना फोन पर दिया और इस तरह के पीड़ित की जानकारी मिलने पर उनसे संपर्क करने के लिए कहा।

शिव सिंह ने थाने को भी पर्स मिलने की सूचना दी गई थी और पर्स मालिक तक पर्स पहुंचाने के लिए सहयोग मांगा गया। सुबह आए परिचित के फोन से शिव सिंह को पर्स मालिक के विषय में जानकारी की सफलता हाथ लगी। फोन करने वाले परिचित ने उन्हें बताया कि जिस व्यक्ति का पर्स उन्हें मिला हैं वह यात्री उन्हीं के आश्रम में ठहरा हुआ हैं।

शिव सिंह को पर्स मालिक ने फोन पर बताया कि वह अपने परिवार के साथ कनखल में एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कोलकाता से शामिल होने आए हुए हैं। उन्होंने बताया कि वह मंशा देवी से दर्शन कर के लौट रहे थे तब रास्ते में अचानक जेब से पर्स कहीं गिर गया। काफी खोजा पर नहीं मिला वह तब से खासे परेशान थे। उसी दौरान शाम को टहलने निकले शिव सिंह को यह पर्स सड़क पर गिरा मिला था।

शिव सिंह ने थाने में पहुंच कर पुलिस की मौजूदगी में पर्स मालिक से पर्स संबंधी जानकारी लेने के बाद कोलकाता निवासी मोहन लाल पाल लौटा दिया। थाने में मौजूद लोगों ने ईमानदारी एवं मानवता का परिचय देने वाले शिव सिंह की भरपूर प्रशंसा की। पश्चिमी बंगाल कोलकाता के यात्री मोहनलाल पाल व उनकी पत्नी ने पर्स मिलने पर शिव सिंह का आभार जताया।