24x7breakingpoint

Just another WordPress site

फेसबुक मे दोस्ती के नाम पर लाखोंं की ठगी

फेसबुक मे दोस्ती के नाम पर लाखोंं की ठगी

फेसबुक मे दोस्ती के नाम पर लाखोंं की ठगी,उत्तराखंड पुलिस के खुलासे पर आप भी हैरान

देहरादून(अरुण शर्मा)। फेसबुक लोगों के लिए भले ही अपनों से जुड़े रहने का एक बेहतर माध्यम हो लेकिन कुछ लोगों के लिए फेसबुक ठगी का बेहतरीन जरिया बनता दिखायी दे रहा हैं। शुक्रवार को कुछ इसी तरह के एक मामले का पर्दाफाश पुलिस नेकिया जिसमें लोगों को फेसबुक मे दोस्ती कर व्यापार मे भागीदारी/डॉलर आदि का लालच देकर ठगा जाता था।

खास खबर—विश्व जल दिवस पर जल संकट पर हुआ चिंतन,चुनावी बयार में मुद्दा गायब

ऐसे करते थे ठगी….

एस0टी0एफ0 ने साईबर क्राइम की एक ऐसी घटना का खुलासा किया जिसमें फेसबुक पर मित्र बनाकर ठगी का काम करते थे। पुलिस ने इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया हैं। ,एसटीएफ पुलिस उपमहानिरीक्षक रिधिम अग्रवाल ने बताया कि आरोपी से पूछताछ में जो खुलासा हुआ है वह काफी चौकाने वाला हैं।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वे अलग—अलग बैको में खाते खुलवाकर इल खातो के एटीएम व पासबुक नाईजिरयन को उपलब्ध कराते थे। आरोपी ने बताया देश के कई राज्यो में लोगों से फेसबुक पर दोस्ती कर लालच देकर उनसे उक्त खातो में लाटरी/बीमा/डालर भेजने के नाम पर धनराशि जमा कराकर धोखाधडी करते थे। जिसकी एवज में उन्हे नाईजिरियन से कमीशन मिलता था।

देहरादून साईबर थाने को मिली शिकायत में फेसबुक मे दोस्ती कर डॉलर का लालच देने के नाम पर आरोप लगाया गया। जिसमें अलग—अलग बैंक खातों से धोखाधड़ी कर करीब रु0 52,00,000/- जमा करवा ठगी किये गये। एसटीएफ ने इसकी जांच साईबर क्राइम से करायी जिसमें कार्यवाही करते हुए टीम ने एक युवक को गोरखपुर उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया।

उसने पुलिस पूछताछ में बताया कि इस मामले में नाईजीरियन व्यक्ति शामिल था। यह व्यक्ति मणिपुर, अरुणांचल प्रदेश, दिल्ली,एनसीआर, उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदो में रहकर इस प्रकार के अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। मामले में पुलिस को कई राज्यों की खाक छानने के बाद आरोपी फखरुद्दीन उर्फ बग्धा को गोरखपुर, उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है।

पूछताछ में यह जानकारी प्राप्त हुयी की गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा विभिन्न बैको में खाते खुलवाकर उन खातो के एटीएम , पासबुक नाईजिरयन को उपलब्ध करायी जाती है। मामले में पूछताछ के आधार पर अन्य अभियुक्तो की तलाश की जा रही है ।