24x7breakingpoint

Just another WordPress site

डीएम दीपक रावत के आदेश की उड़ रही धज्जियां, लोग बेखौफ कर रहे ये काम

डीएम दीपक रावत के आदेश की उड़ रही धज्जियां,

डीएम दीपक रावत के आदेश की उड़ रही धज्जियां, लोग बेखौफ कर रहे ये काम

हरिद्वार(कमल खड़का)। हरिद्वार गंगा किनारे एक बार फिर अतिक्रमण की चपेट में घिरता हुआ दिखायी दे रहा हैं। अधिकारीयों की अतिक्रमण के खिलाफ की जाने वाली बार-बार की कार्यवाही के बाद भी अतिक्रमण हर की पौड़ी क्षेत्र में एक बार फिर अपना पांव पसराने लगा हैं। सुभाष घाट, नाइ घाट, हरकी पैड़ी सहित कई गंगा घाटों पर अतिक्रमणकारीयों का कब्जा हैं। आलम यह है कि डीएम दीपक रावत के निर्देशों के बाद भी पुलिस घाटों पर दोपहिया वाहनों की पार्किंग को नहीं रोक पा रही हैं। जिसके चलते यहां आने वाले श्रद्वालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं।

खास खबर—कर्नल कोठियाल ने की राष्ट्रीय पार्टीयों से तौबा,करने जा रहे है यह बड़ा काम

हरिद्वार के गंगा घाटों को अतिक्रमण मुक्त कराने को लेकर डीएम दीपक रावत की मुहिम अब धूमिल होती दिखायी दे रही हैं। बेअसर हो चली डीएम रावत के निर्देशों को दरकिनार करते हुए अतिकमणकारी गंगा किनारे बेखौफ अतिक्रमण कर रहे हैं।

सुभाष घाट गऊघाट पर सभी लंगर का यह आलम है कि पूरी—हलवे की दुकान के आगे पराठे के टेबल डीएम के निर्देशों को मुंह चिढ़ाते नजर आ रहे हैं। यहीं नहीं दुकानों का आलम यह है कि उनका सामान नगर निगम के नाले से 10 फिट आगे निकाल कर लगाया हुआ हैं। नगर निगम के हवलदार आंखे मूंदे बैठे हैं।

हरकी पैड़ी क्षेत्र में बायलॉज मैं खादय पदार्थ बेचना प्रतिबंधित है लेकिन यहाँ लंगर की दुकान अवैध रूप से चल रही हैं। आलम यह है कि कुछ लंगरवालों ने नियमों को ताक पर रखकर फूड लाइसेंस तक बनवा लिया है।

भंडारे का कमीशन

नगर निगम के रिकॉर्ड के अनुसार यहाँ 18 लंगर की दुकान हैं सभी दुकानों में कमीशन वाले लोग काम करते हैं। इन लोगों को 20 प्रतिशत कमीशन दिया जाता हैं। ये कमीशन वाले लोग आस्था का ऐसा व्यापार करते है कि किसी को कानों कान खबर भी नहीं होती है और यात्री को हजारों रुपये का फटका भी लग जाता हैं। ऐसा नहीं है कि इसकी जानकारी किसी को नहीं है लेकिन पुलिस और प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ हैं।