24x7breakingpoint

Just another WordPress site

अवैध संबंध में आड़े आये पति को प्रेमी के साथ पत्नि ने ऐसे लगाया ठिकाने

अवैध संबंध में आड़े आये पति को प्रेमी के साथ पत्नि ने ऐसे लगाया ठिकाने

अवैध संबंध में आड़े आये पति को प्रेमी के साथ पत्नि ने ऐसे लगाया ठिकाने

देहरादून(अरुण शर्मा)। अवैध संबंध में आड़े आया पति तो पत्नि ने प्रेमी की मदद से उसे लगा दिया ठिकाने। हवस की यह वह कहानी है जिसमें पत्नि ने अपनी हवस को मिटाने के लिए अपने पति को ही रास्ते से हटा दिया। मामला उत्तराखंड के काशीपुर का है जहां पर गुरमीत नाम के युवक की मौत की खबर ने क्षेत्र में सनसनी फैला दी। लोग उस समय ज्यादा सकते में थे जब उसके खुदखुशी करने की खबर सुनी। दरअसल गुरमीत की पत्नि ने पुलिस को गुरमीत के फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना दी थी। लेकिन पुलिस की जांच में जो सच सामने आया उसने सभी को हिलाकर रख दिया। पूरा मामला अवैध संबंधो का था।

खास खबर—संतो का Ram Mandir निर्माण को संघर्ष, भाजपा की चाल: राजपूत

जानकारी के अनुसार पुलिस को सूचना दी गयी कि गुरमीत ने आत्महत्या कर ली लेकिन पुलिस की शुरुआती जांच में ही मामला सदिंग्ध लगा। पुलिस ने शक के आधार पर गुरमीत की पत्नि को हिरासत में लिया और उससे सख्ती से पूछताछ की तो सारा मामला सामने था।

सख्ती से पूछताछ में दोनों ने जुर्म कबूलते हुए बताया कि उनके आपस में अवैध संबंध थे। सुमन ने सुनील से मकान बनाने के लिए जगह खरीदी थी और मकान बनाने के लिए रुपये उधार भी लिए थे। सुमन पर सुनील की करीब 11 हजार रुपये देनदारी और है। चूंकि सुनील का घर भी सुमन के बगल में बन रहा है, लिहाजा सुनील का सुमन के घर आना-जाना हो गया। गुरमीत ने कई बार सुमन को समझाया था लेकिन हवस की मारी सुमन को कुछ समझ नहीं आया। फिर एक दिन सुमन और सुनील ने ऐसा प्लान बनाया जिससे गुरमीत की हत्या कर उसकी मौत को खुदखुशी का रुप देना था। लेकिन पुलिस की जांच और सख्ती के आगे सुमन अपना पाप नहीं छुपा पायी।

सीओ राजेश भट्ट ने बताया कि गुरमीत को रास्ते से हटाने के लिए सुमन ने पांच नवंबर की दोपहर सुनील से फोन पर बात की। सुनील ने रात को गुरमीत को ठिकाने लगाने को कहा। सुनील देर रात सुमन के घर आया तो गुरमीत ने उसके इतनी रात को घर आने का विरोध किया। सुमन ने गुरमीत के हाथ पकड़े और सुनील ने उसका गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद दोनों ने मिलकर उसके गले में चुन्नी बांधकर बरामदे की छत पर लगी बल्ली से शव को लटका दिया। जिससे गुरमीत की मौत खुदखुशी लगे।